HomeSad ShayariTop 50+ Pyar me Dhoka Shayari Hindi

Top 50+ Pyar me Dhoka Shayari Hindi

दोस्तो आप सभी का स्वागत है Hindi Shayari Blog में, क्या आपको भी प्यार में धोखा मिला है और क्या आपका भी प्यार में दिल टूटा है। इस लिए आज हम लेकर आये है Pyar me dhoka shayari, Sad Dhoka shayari, Dhokebaaz shayari in Hindi, 2 line dhoka Shayari, Pati patni dhoka Shayari, Pyar me dhoka hindi Status.

मेरे प्यारे दोस्तो अक्सर लोगो को प्यार में धोका मिलता है और आपका प्यार में दिल टूट जाता है। इस लिए कहते है प्यार पर कभी विस्वास नही करना चाहिए ये जितना खुसी देती है उससे ज्यादा गम भी देती है।

Pyar me Dhoka Shayari Hindi
Pyar me Dhoka Shayari Hindi

Pyar me Dhoka Shayari

❝ ​आग दिल में लगी जब वो खफा हुए;​
​महसूस हुआ तब,​ ​जब वो जुदा हुए​;
​​करके वफ़ा कुछ दे न सके वो​
​​पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफा हुए,
ये सिर्फ बेवफाई का फ़साना हे. ❞

❝ मोहब्बत करके देखि तो मोहब्बत को पहचान लिया,
वफ़ा सिर्फ नाम कि बात हे ये सिर्फ बेवफाई का फ़साना हे. ❞

❝ ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे;
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया;
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे। ❞

❝ मत बहा आंसुओं में जिंदगी को;
एक नए जीवन का आगाज़ कऱ;
दिखानी है अगर दुश्मनी की हद तो;
ज़िक्र भी मत कर, नज़र अंदाज़ कर। ❞

❝ लगाया है जो दाग तूने हमें बेवफ़ा सनम;
हाय मेरी पाक मुहब्बत पर;
लगाये बैठे हैं इसे अपने सीने से हम;
प्यार की निशानी समझ कर। ❞

❝ उनको कहो के ये कागज का लिबास उतार दे,
अगर बारिश आएगी तो अपने आप को कहा छिपाएगे. ❞

❝ मिल जाए हर कोई यू ही रहो मे,
तो पता कैसे चले की इंतज़ार क्या है,
तड़प के देखो किसी की चाहत मे,
तो पता चले की प्यार क्या होता है. ❞

❝ मिलने की आस तन्हाई होती हे,
वफ़ा की आस बेवफा होती हे,
दिल मे जीने की उमंग समाई होती हे,
पता नही किसको क्या मिले,
क्योकि किस्मत रब की बनाई होती हे. ❞

❝ आकाश मे डूबा एक प्यारा तारा हे,
हमको तो किसी की बेवफ़ाई ने मारा हे,
हम उनसे अब भी मोहब्बत करते हे,
जिसने हमे मौत से भी पहेले मारा हे. ❞

❝ एक तेरी खातिर परेशाँ हूँ मैं;
टूटे दिलों की जुबाँ हूँ मैं;
तूने ठुकराया जिसको अपनाकर;
उसी दीवाने का गुमां हूँ मैं। ❞

Pyar me Dhoka Hindi Status

❝ आग दिल मे लगी जब वो खफा हुए,
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए,
कर के वफ़ा कुछ दे ना सके वो,
पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफा हुए. ❞

❝ उनकी आँखो मे इस कदर का नूर हे की,
उनके ख़यालो मे रोना भी मंज़ूर हे.
बेवफा भी नही कहे सकते उन्हे क्यू की,
प्यार तो हमने किया था वो तो बेकसूर हे. ❞

❝ जिस गुलशन को मैने लहू से सजाया था,
हर फूल को मैने खून-ए-जिगर पिलाया था,
उससे वीरान कर दिया तेरी बेवफ़ाई ने,
और मैने तुझको वफ़ा की देवता बनाया था. ❞

❝ ​बेवफाई उसकी मिटा के आया हूँ;
ख़त उसके पानी में बहा के आया हूँ;
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को;
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ। ❞

❝ वो खून करके मेरे दिल का बेगुनाह कहलाते हे,
छेड़कर मेरे ज़ख़्मो को बेशर्मी से मुस्कुराते हे.
बड़े बेदर्द होते हे वो हसीन अदा ओ वाले,
जो चहेरे से बड़े हे मासूम नज़र आते हे. ❞

❝ आज अभी उनकी नज़र में राज़ वही था ,
चेहरा वही था चेहरे का लिबास वही था ,
कैसे उन्हें बेवफा कह दूं आज भी,
उनके देखने का अंदाज़ वही था ! ❞

❝ मोहब्बत करे तो लगता हे जैसे,
मौत से भी बड़ी ये एक सज़ा हे जैसे,
किस किस से शिकायत करे हम,
जब अपनी हे तक़दीर हे बेवफा हो. ❞

❝ मोहब्बत ने हमपर ये इल्जाम लागाया
है वफा कर के भी बेवफा का नाम पाया
है राहे अगल नही थी हमारी फिर भी
हमने अगल अगल मंझील को पाया है ! ❞

❝ बहाने कुछ और काम कुछ और हुवा करते हे,
बाते कुछ और ,यादे कुछ और किया करते हे.
उम्मीद भी लगी उनसे, जिनकी चले कुछ,
और मौहरे और हुवा करते हे. ❞

❝ काफ़िर हुए थे जिस की
मोहब्बत में कल हम;
आज वही शख्स किसी और
के लिए मुस्लमान हो गया। ❞

2 Line Dhoka Shayari

❝ इश्क के इस दाग का एक बेवफा से रिश्ता है
इस दुनिया में सदियों से आशिक का ये किस्सा है ❞

❝ जो वादा किया है वो निभाना होगा,
एक दिन लौट कर तुम्हे आना होगा,
दिल तोड़कर मुस्कुरा रहे हो आज,
देखना एक दिन तुम्हे भी पछताना होगा… ❞

❝ क्या बताऊँ मेरा हाल कैसा है;
एक दिन गुज़रता है एक साल जैसा है;
तड़पता हूँ इस कदर बेवफाई में उसकी;
ये तन बनता जा रहा कंकाल जैसा है। ❞

❝ खुद मेरा पता नही हम कैसे जी लेते हे,
तो दुनिया की हालत हम कैसे बताए आपको,
गये थे हम मोहब्बत की जंग जीतने,
दिल पर ज़ख़्म खाकर वापस लौट आए हे. ❞

❝ दुनियाँ को इसका चेहरा दिखाना पड़ा मुझे;
पर्दा जो दरमियां था हटाना पड़ा मुझे;
रुसवाईयों के खौफ से महफिल में आज;
फिर इस बेवफा से हाथ मिलाना पड़ा मुझे। ❞

❝ दूर चले गये तेरी दुनिया से और टुजे अलविदा भी ना कह सके,
तेरी सादगी भी इतनी हसीन थी के टुजे बेवफा भी ना कह सके. ❞

❝ मालूम नही हे की कैसे ज़रूरत निकल आई,
उस मासूम चहेरे की शराफ़ात निकल आई,
वो खुश हे मूझे बर्बाद करके,
और मे खुश हू की उसके अहेसान की कीमत निकल आई. ❞

❝ झुकी पलको से उनका दीदार किया था,
सब कुछ भूलके उनका इंतेज़ार किया था.
वो समज ना सके मेरे जज़्बात कही,
जिन्हे ज़िंदगी मे सबसे ज़्यादा प्यार किया था. ❞

❝ उमर की राह मे रस्ते बदल जाते हैं,
वक्त की आंधी में इन्सान बदल जाते हैं,
सोचते हैं तुम्हें इतना याद न करें,
लेकिन आंखें बंद करते ही इरादे बदल जाते हैं ❞

❝ सामने आकर चाहे जान से मार डालो,
मगर पीछे से बद्दुआ दिया ना करो,
हाल भी ना जानो मेरा बर्बादी के बाद,
इतने भी सनम पत्थर दिल हुआ ना करो. ❞

Pati Patni Dhoka Shayari

❝ जान कर भी वो मुझे जान ना पाए,
आज तक वो मुझे पहचान ना पाए,
खुद ही कर ली बेवफ़ाई हमने,
ताकि उनपर कोई इल्ज़ाम ना आए. ❞

❝ सह लिया है हर दर्द हमने हस्ते-हस्ते,
उजड़ गया है मेरा घर बस्ते-बस्ते.
अब वफ़ा करे भी तो कैसे करे,
वफ़ा करने गया तो बेवफ़ाई ही मिली है रस्ते-रस्ते.। ❞

❝ ​मेरा ख़याल ज़ेहन से मिटा भी न सकोगे​;
​एक बार जो तुम मेरे गम से मिलोगे​;​
​तो सारी उम्र मुस्करा न सकोगे​। ❞

❝ हम अपनी वफ़ा का यकीन तुमको दिला ना सके,
तुमसे दूर गये क्या फिर पास आ ना सके,
इस कदर टूट कर पर किया तुझे के,
तेरे जाने के बाद हम किसी और के हो ना सके . ❞

❝ उन्होंने जो किया ये शायद उनकी फितरत है!
अपने लिये तो प्यार एक इबादत है!
न मिले उनसे तो मरकर बता देंगे!
कि कितनी मुहब्बत है इस दिल में! ❞

❝ समज़ते है की पत्थर है हम,
उनको ठोकर मार जाएँगे ,
एक बार कह दे नफ़रत है हम से,
खुदा कसम पत्थर तो क्या,
फूल बन कर भी उनकी राह मे नही आएँगे. ❞

❝ कोई जुदा हो गया कोई कफा हो गया
यह दूनिया के लोगों को क्या हो गया
जिस सजदा मैं मुझे उस को मागना था
रब सा अफ़सोस वोही सजदा क़हा हो गया ❞

❝ एक बेबफा के जख्मो पे मरहम लगाने
हम गए मरहम की कसम मरहम न मिला
मरहम की जगह मर हम गए ! ❞

❝ भुला कर हमें वो खुश रह पाएंगे,
साथ में नही तो मेरे जाने के बाद मुस्कुरायेंगे,
दुआ है खुदा से की उन्हें कभी दर्द न देना,
हम तो सह गए पर वोह टूट जायेंगे ❞

❝ शायरी नहीं आती मुझे बस हाले दिल सुना रही हूँ.
बेवफ़ाई का इलज़ाम है, मुझपर फिर भी गुनगुना रही हूँ,
क़त्ल करने वाले ने कातिल भी हमें ही बना दिया,
खफ़ा नहीं उससे फिर भी मैं बस, उसका दामन बचा रही हूँ ❞

Dhokebaaz Shayari In Hindi

❝ अगर दुनिया में जीने की चाहत ना होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनाई ना होती,
लोग मरने की आरज़ू ना करते,
अगर मोहब्बत में बेवाफ़ाई ना होती! ❞

❝ कोई रिश्ता टूट जाये दुख तो होता है,
अपने हो जायें पराये दुख तो होता है,
माना हम नहीं प्यार के काबिल मगर
इस तरह कोई ठुकराये दुख तो होता है। ❞

❝ वो समझें या ना समझें मेरे जजबात को,
मुझे तो मानना पड़ेगा उनकी हर बात को,
हम तो चले जायेंगे इस दुनिया से,
मगर आंसू बहायेंगे वो हर रात को ❞

❝ जो आपने न लिया हो, ऐसा कोई इम्तहान न रहा,
इंसान आखिर मोहब्बत में इंसान न रहा, है कोई बस्ती,
जहां से न उठा हो ज़नाज़ा दीवाने का,
आशिक की कुर्बत से महरूम कोई कब्रिस्तान न रहा, ❞

❝ प्‍यार गुनाह है तो होने ना देना प्‍यार खुदा है
तो खोने ना देना करते हो प्‍यार जब किसी से
तो कभी उस प्‍यार को रोने ना देना ❞

❝ ना पूछ मेरे सब्र की इंतेहा कहाँ तक हैं,
तू सितम कर ले, तेरी हसरत जहाँ तक हैं,
वफ़ा की उम्मीद, जिन्हें होगी उन्हें होगी,
हमें तो देखना है, तू बेवफ़ा कहाँ तक हैं | ❞

❝ कभी रो के मुस्कुराये , कभी मुस्कुरा के रोये,
तेरी याद जब भी आयी, तुझे भुला भुला के रोये,
एक तेरा ही नाम था जिसे हज़ार बार था लिखा
जिसे खुश हुए थे लिख कर , उसे मिटा मिटा के रोये ❞

❝ दिल टूटेगा तो फरियाद करोगे तुम भी,
हम न रहे तो हमने याद करोगे तुम भी,
आज कहते हो हमारे पास वक़्त नहीं हैं,
पर एक दिन मेरे लिए वक़्त बर्बाद करोगे तुम भी ❞

❝ पलकों के किनारे हमने भिगोये ही नहीं,
वो सोचते हैं कि हम रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं कि ख्वाबों मैं किसे देखते हो,
हम हैं कि एक उम्र से सोये ही नहीं ❞

❝ लम्हा लम्हा सांसें ख़तम हो रही हैं,
ज़िंदगी मौत के पहलू में सौ रही है,
उस बेवफा से ना पूछो मेरी मौत की वजह,
वो तो ज़माने को दिखाने के लिए रो रही है. ❞

❝ मत ज़िकर कीजिये मेरी अदा के बारे में,
मैं बहुत कुछ जानता हूँ वफ़ा के बारे में,
सुना है वो भी मोहब्बत का शोक़ रखते हैं,
जो जानते ही नहीं वफ़ा के बारे में। ❞

❝ मोहब्बत ने हम पर ये इल्ज़ाम लगाया हैं,
वफ़ा कर के बेबफा का नाम आया हैं,
राहें अलग नहीं थी हमारी फिर भी,
हम ने अलग अलग मंज़िल को पाया हैं ❞

❝ मोहब्बत से खफा तुम भी,
मोहब्बत से खफा हम भी नहीं तुझमे जफ़ा कुछ भी,
नहीं मुझमे जफ़ा कुछ भी मगर कहते रहे मजबूर से
हम इस मोहब्बत में बड़े हो बेवफ़ा तुम भी , बड़े है बेवफा हम भी ❞

❝ एक अजीब सा मंजर नज़र आता हैं,
हर एक आँसूं समंदर नज़र आता हैं,
कहाँ रखूं मैं शीशे सा दिल अपना,
हर किसी के हाथ मैं पत्थर नज़र आता हैं ❞

Final Words For Pyar me Dhoka Shayari

दोस्तो अगर आपको ये Pyar me dhoka shayari In Hindi, Sad Dhoka Shayari, Pyar me dhoka hindi status, 2 line dhoka shayari, Sad dhoka shayari, Pati patni dhoka shayari आपको अच्छी लगी तो इस पोस्ट को लाइक करे । अगर आप इस Pyar me dhoka shayari को शेयर करना चाहते है तो आप इसे WhatsApp status और Facebook पर शेयर कर उन्हें बता सकते है जिनसे आपको धोखा दिया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments